बिहारीगढ़/समाचार

15 अगस्त को आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाई जाएगी. इस मौके पर पूरा देश उत्साहित है. आजादी के अमृत महोत्सव को मनाने के लिए लोग अपने घरों में तिरंगा फहरा रहे हैं, इसके साथ ही कई स्थानों पर तिरंगा यात्रा भी निकाली जा रही है. इसी क्रम में बिहारीगढ़ के बुग्गावाला रोड़ व थापुल स्थित गांव के एक मदरसों का नजारा दिल जीत रहा है. इस तिरंगा यात्रा में मदरसे के बच्चे पूरे जोश के साथ तिरंगा यात्रा निकालते दिख रहे हैं.
खबर बिहारीगढ़ से, जहाँ आज़ादी के 75 वें साल को देश अमृत महोत्सव के रूप में मनाया रहा है, जिसके तहत बुग्गावाला रोड़ पर स्थित मदरसा दारुल उलूम अल अबरारिया वासिदीकिया बुग्गावाला रोड़ बिहारीगढ़ व मदरसा दावत उल कुरान थापुल बिहारीगढ़ में मदरसे के छात्रों ने तिरंगा यात्रा निकाली । यात्रा में गंगा-जमुनी तहजीब देखने को मिली । तिरंगा यात्रा में बच्चों के साथ सभी धर्मों के लोग भी शामिल हुए । तिरंगा यात्रा में प्रबंधक (मोहतमीम) कारी मो. उसमान व  प्रबंधक (मोहतमीम) मौलाना मोहम्मद गयुर मजाहीरी ने हाथो में तिरंगा लिए लगभग 100 बच्चों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया । वहीं रैली में हाफिज युसुफ राव वसीम राव नसीम मोलवी नैयर मदरसा स्टाफ व ग्रामीण आदि भी शामिल हुए । आपको बता दें की शनिवार को आज़ादी के अमृत महोत्सव का बेहद खूबसूरत नज़ारा बिहारीगढ़ में देखने को मिला, जहां मदरसों के सैकड़ों बच्चों ने देश भक्ति कि भावना से प्रेरित होकर तिरंगा यात्रा निकाली और कस्बे की सड़के हिंदुस्तान जिंदाबाद, सारे जहां से अच्छा हिंदोसतां हमारा के नारों से गूंज उठीं । आपको बताते चले की मदरसा दारुल उलूम अल अबरारिया वासिदीकिया बुग्गावाला रोड़ बिहारीगढ़, व मदरसा दावत उल कुरान थापुल बिहारीगढ़ में तिरंगा यात्रा से पहले बच्चों को राष्ट्रीय ध्वज वितरित किया गया और इसके बाद प्रबंधक (मोहतमीम) कारी मो. उसमान व  प्रबंधक (मोहतमीम) मौलाना मोहम्मद गयुर मजाहीरी ने रैली को रवाना किया । वहीं गाँव के जिम्मेदार लोग भी तिरंगा यात्रा में शामिल हुए । इस दौरान मदरसे के बच्चों में देशभक्ति की भावना साफ दिखी ।