मुस्लिम समाज ने भी मदरसों के बच्चों के साथ निकाली तिरंगा यात्रा, घर-घर तिरंगा फहराने का किया आह्वान

हसनावाला/भगवानपुर

भगवानपुर के हसनावाला में आजादी के अमृत महोत्सव का बेहद खूबसूरत नजारा देखने को मिला, जहां मदरसों के सैकड़ों बच्चों ने देश भक्ति कि भावना से प्रेरित होकर तिरंगा यात्रा निकाली और गाँव की सड़के हिंदुस्तान जिंदाबाद, सारे जहां से अच्छा हिंदोस्ता हमारा के नारों से गूंज उठीं. यहां के मदरसा इदारा मजहरे हिदायत के बच्चों ने हाथों में तिरंगा लिए यात्रा का प्रारम्भ ग्राम खेड़ी शिकोहपूर से होते हुए हसनावाल,बंजारेवाला, तेलपुरा से यात्रा का समापन हसनावाला में हुआ। इस यात्रा का निकाला, मदरसे के संचालक ने कहा कि छोटे-छोटे बच्चों को भी जानना चाहिए कि हमारे बुजुर्गों ने अंग्रेजों की हुकूमत से लड़कर कैसे वतन को आजादी दिलाई थी. 


मदरसे के बच्चों ने निकाली तिरंगा यात्रा

आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत जहां कई कार्यक्रम इन दिनों शहर में हो रहे हैं. मदरसा इदारा मजहरे हिदायत हसनावाला में तिरंगा यात्रा से पहले बच्चों को राष्ट्रीय ध्वज वितरित किया गया और इसके बाद बच्चों ने करीब 6 किमी लंबी तिरंगा यात्रा को निकाला, इस दौरान मदरसे के संचालक कारी मोहम्मद साजिद एवं अन्य सहयोगी स्टाफ मौजूद रहा. यात्रा के दौरान बच्चों में देशभक्ति की भावना साफ देखी जा सकती थी. जहां बच्चे हिंदुस्तान जिंदाबाद एवं सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तां हमारा के नारे लगाते रहे.


मदरसा संचालक ने कही ये बात


वहीं मदरसों को लेकर जो आम लोगों में धारणा बनी हुई है उसको लेकर मदरसा संचालक ने कहा कि सिर्फ यह लोगों में भ्रम फैलाया गया है बल्कि आजादी के लिए मदरसों के कई लोगों ने देश के लिए शहादत दी है. उस शहादत को जानने और समझने के लिए हमें इतिहास को बारीकी से समझना एवं पढ़ना चाहिए. यात्रा के दौरान गाँवों के कई लोगों ने मदरसों के बच्चों के इस पहल की खुलकर तारीफ की. इस दौरान कई लोग बच्चों के फोटो एवं वीडियो भी बनाते नजर आए.