महाराजगंज इकाई ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा! 


सिसवा बाजार/महराजगंज 


बुधवार को ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन उत्तर प्रदेश की महराजगंज इकाई ने राज्यपाल को नामित एक ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा।

जिसमे हाल ही में प्रदेश के विभिन्न जिलों में पत्रकारों के उत्पीड़न की घटनाओ व हाल में ही बलिया जनपद एवं उसके आसपास के अन्य जनपदों में सुनियोजित एवं बड़े पैमाने पर नकल के संदर्भ में खबरे स्थानीय हिंदी दैनिक समाचार पत्र के लिए काम करने वाले पत्रकार अजित ओझा, दिग्विजय सिंह व मनोज गुप्ता को अंग्रेजी के प्रश्नपत्र लीक प्रकरण को उजागर करने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया


जिस पर बलिया जिला प्रशासन नकल माफियाओं पर सीधी कार्यवाई करने के बजाय कलम के सिपाहियों का मुंह बंद करने और हाथ बांधने की कोशिश पर आक्रोश व्यक्त करते हुए ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन ने ज्ञापन के माध्यम से यह मांग कि की नकल माफियाओं के कुकृत्य की व्यापक जाचं एवं पेपर लीक का खुलासा करने वाले अधिकारियों पर कार्यवाही के साथ उक्त पत्रकारों के खिलाफ दर्ज मुकदमा वापस हो एवम बलिया जनपद के जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारियों की भूमिका की न्यायिक जांच कराई जाए व जांच परिणाम आने तक उन्हें निलंबित कर दिया जाय ।जिससे जांच प्रक्रिया को प्रभावित न किया जा सके प्रदेश में पत्रकार उत्पीड़न की घटनाओं पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जाए विभिन्न समाचार पत्री/चैनलो / मीडिया संस्थानों में कार्यरत पत्रकारों को शासन स्तर से सूची बद्ध करने की मांग की है

इस दौरान ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष अजय जायसवाल रवि प्रताप सिंह मनोज राय प्रदीप गौंड धर्मेंद्र गुप्ता देवेंद्र भारती राजेश वैश्य सहित अन्य पत्रकार मौजूद रहे।