आखिर चौथे स्तंभ पर कब तक होता रहेगा वार! 


पत्रकारों का उत्पीड़न नहीं किया जाएगा बर्दाश्त  एस.एम हुसैन जैदी



   बेहट/समाचार


बलिया मे पत्रकारों के उत्पीड़न के विरोध मे ग्रामीण पत्रकार एशोसिएशन से जुड़े पत्रकारो का विरोध प्रदर्शन 


पत्रकार उत्पीड़न के मामलें को लेकर प्रदेश अध्यक्ष सौरभ कुमार,जिलाध्यक्ष एवं उत्तराखंड प्रभारी आलोक तनेजा के आदेश अनुसार महामहिम राज्यपाल के नाम ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन, तहसील अध्यक्ष एस.एम.हुसैन जैदी,संरक्षक अरविंद गोयल, डॉ. मरगुबुलहक, उपाध्यक्ष सोमपाल कश्यप,अमरीश गर्ग, एवं ब्लॉक अध्यक्ष नरेन्द्र काम्बोज के नेतृत्व में

उत्तर प्रदेश के बलिया में यूपी बोर्ड परीक्षा के दौरान अंग्रेजी का प्रश्न पत्र आउट होने के मामले में  पत्रकारों के साथ हुए दुर्व्यवहार किए जाने को लेकर के डीएम व एसपी के खिलाफ कार्रवाई की जाए, पत्रकारों के साथ मानसिक एवं सामाजिक उत्पीड़न जो किया गया है, उसका मुआवजा दिया जाए, तत्काल प्रभाव से पत्रकारों को रिहा किया जाए, पत्रकारों को समाचार संकलन में पूरी आजादी हो, ताकि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की गरिमा बनी रहे, मामले की जांच हो व दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाय।

ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के  के निर्देशन में संगठन की तहसील इकाई बेहट के द्वारा बुधवार को प्रदेश में पत्रकार उत्पीड़न रोकने हेतु विभिन्न मांगों को लेकर महामहिम राज्यपाल के नाम सम्बोधित  एक ज्ञापन ज्वाइंट मजिस्ट्रेट बेहट पृणतां सिंह को सौंपा गया।, संगठन के तहसील अध्यक्ष एस.एम. हुसैन जैदी ने कहा है कि कोई भी अधिकारी कर्मचारी किसी पत्रकार का शोषण न करें और  जब तक बरेली से जेल भेजे गए पत्रकारों को सरकार रिहा नहीं करती अर्थात उनसे मुकदमे वापस नहीं लेती तब तक ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के द्वारा आंदोलन जारी रहेगा।बेहट इकाई के संरक्षक अरविंद गोयल ने कहा 

बलिया प्रशासन पूरी तरह से मनमानी कर रहा और अपना  काला चिठ्ठा छिपाने के चलते सारा दोष पत्रकारो के सर पर मढ़ने काम किया है ज्ञापन देने में मुख्य रूप से वाजिद चौधरी जुलफान मलिक सुंदरलाल,गय्युर मलिक, दानिश जैदी, रियाज हुसैन,मारूफ मिर्जा, सत्तार शेख,अब्दुल बारी, नौशाद व जावेद चौधरी नितिन सैनी, शौकीन अहमद, अवनीश काम्बोज आदि पत्रकार मौजूद रहे