बरमाना/हिमाचल


राज्य सरकार के 2 अक्टूबर महात्मा गांधी जयंती पर हिमाचल में हर पंचायत में ग्राम सभा का आयोजन किया जा रहा है जिसमें जो विकास कार्य और पुराने विकास कार्य का आय व्यय लेखा रखा जाएगा और इसमें सबसे बड़ी चुनौती अपात्र बीपीएल लोग जो कई वर्षों से बीपीएल श्रेणी में है उनको निकालना चुनौती के रूप में बाहर आया हैं पर बरमाना पंचायत में क्योंकि  लगभग 107 परिवार बीपीएल श्रेणी में आते हैं जिसका एक लंबे समय से जनता द्वारा विरोध हो रहा है कि तकरीबन 80% लोग अपात्र हैं इसके लिए पंचायत में आज मीटिंग में एक कठोर निर्णय लिया तथा जिसमें 26 / 09 /2021 तक जो राज्य सरकार की गाइडलाइन है उसके अनुरूप जो आते हैं वह बीपीएल फॉर्म भरकर पंचायत में जमा करवाएं तथा आगामी ग्राम सभा में जो पुराने 107 लाभार्थी हैं उनकी उपस्थिति अनिवार्य की गई है नहीं तो उनका बीपीएल से नाम काट दिया जाएगा क्योंकि राज्य सरकार आज के समय में हर लाभ गरीब जनता को दे रही है पर कुछ प्रतिनिधि इन सुविधाओं को राजनीति का रूप देते हैं