Breaking News
Loading...
Share It

Contact Form

Name

Email *

Message *

AD
AD

Search This Blog

🇹​🇦​🇧​🇷​🇪​🇿​ 🇦​🇦​🇱​🇦​🇲​ 🇦​🇲​🇮​🇷​🇮​ⒽⒾⓃⒹⓊⓈⓉⒶⓃ ⓁⒾⓋⒺ ⓉⓋ . Powered by Blogger.

Friday, 28 May 2021

सीएम से वार्ता के लिए चुने गए जमालपुर के प्रधान कुर्बान आज होगी प्रदेश के मुखिया से वार्ता
May 28, 2021 by

रिपोर्ट-अफजल अली

प्रदेश में से चुने गए 10 प्रधानों में खुशकिस्मत सहारनपुर जनपद से एक हैं प्रधान कुर्बान जो सीएम के सामने रखेंगे अपने दिल की बात                 

मुज़फ्फराबाद/सहारनपुर

ब्लॉक मुजफ्फराबाद की ग्राम पंचायत जमालपुर से प्रधान कुर्बान अली प्रदेश भर के 10 उन खुशकिस्मत प्रधानों में से एक हैं जिन्हें आज प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ से रूबरू होने का मौका मिलेगा इसके लिए गुरुवार को उपनिदेशक पंचायती राज हरिकेश बहादुर जमालपुर पहुंचे और इसकी जानकारी दी जनपद में एकमात्र प्रधान 72 वर्षीय कुर्बान को सीएम योगी से बात करने का मौका मिला है जो ब्लॉक मुजफ्फराबाद की ग्राम पंचायत जमालपुर से नवनिर्वाचित प्रधान चुने गए हैं वह जनपद ही नहीं प्रदेश के चयनित उन 10 प्रधानों में से एक हैं जिनसे सीएम योगी बात करेंगे और उन्हें अपने दिल की बात कहने का मौका मिलेगा उनका चयन लखनऊ से ही किया गया है उनका कहना है कि वह मुजफ्फराबाद क्षेत्र में उन्नत अस्पताल सीएचसी की मांग करेंगे डीडी पंचायत हरिकेश बहादुर डीपीआरओ उपेंद्र राज सिंह ने उनको सीएम साहब की मीटिंग के लिए चयनित किए जाने को जानकारी दी इस दौरान वीडियो रवि प्रकाश एडीओ पंचायत जय सिंह मनीष दत्त आदि मौजूद रहे !! 

Saturday, 22 May 2021

क्या अस्पताल ही बन रहे कोरोना के सुपर स्प्रेडर
May 22, 2021 by

रिपोर्टर-अब्दुल बारी राइन


सहारनपुर :- मुजफ्फराबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. अस्पतालों में लोगों की भीड़ बढ़ रही है. कोरोना टेस्ट कराने पहुंच रहे लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं. अस्पतालों में ही कोविड 19 गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. यह कोरोना विस्फोट का जरिया बन सकती हैं. ऐसे में यह सवाल उठ रहे हैं कि क्या अस्पताल खुद कोरोना के सुपर स्प्रेडर बन गए हैं?
लॉकडाउन लगने के बावजूद संक्रमण और मौत के आंकड़े थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. सर्दी-खांसी के अलावा फीवर से जूझ रहे मरीज अस्पतालों के चक्कर काटने के लिए मजबूर हैं. जहां उन्हें कोरोना जांच कराना अनिवार्य है. ऐसे में बिना सोशल डिस्टेंसिंग की ये कतारें चौंकाने वाली हैं. जिसे देखकर यह सवाल जरूर उठता है कि कहीं अस्पताल ही तो कोरोना के सुपर स्प्रेडर नहीं बन रहे हैं, 

लोगों की लापरवाही से फैल रहा संक्रमण सामान्य सर्दी और फ्लू के साथ ही कोरोना के मामले को लेकर अस्पताल प्रबंधन सतर्क है, लेकिन अस्पतालों में मरीज कोविड नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं मुजफ्फराबाद प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में भीड़ बहुत रहती है. एक-दूसरे से सटकर लोग खड़े रहते हैं. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते और मास्क भी नहीं लगाते, जिसकी वजह से संक्रमण बढ़ने का खतरा हो सकता है.

Saturday, 8 May 2021

गांव में सफाई व्यवस्था चौपट संक्रामक रोगों का बढा खतरा पानी की निकासी ना होने की वजह से नालियों में भरा हुआ है पानी
May 08, 2021 by

रिपोर्ट-अफज़ल अली
कोविड19 की जनपद में जबरदस्त लहर चल रही है किसी अधिकारी ने ग्रामीण क्षेत्रों में सफाई करानी की जहमत नहीं समझी
मुजफ्फराबाद/सहारनपुर

ब्लॉक मुजफ्फराबाद की ग्राम पंचायत जमालपुर में सफाई व्यवस्था चौपट हो गई है नालियों मे पानी की निकासी ना होने की वजह से पानी भरा हुआ है उसके अंदर मच्छरों का जमावड़ा शुरू हो गया है 

मलेरिया डेंगू चिकनगुनिया जैसी घातक बीमारियों का लोगों में भय बना हुआ है संक्रामक रोगों का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है ग्राम वासियों का आरोप है कि सफाई कर्मी कभी आता है और कभी नहीं अगर आता भी है तो थोड़ा बहुत काम करके चला जाता है 

ग्रामीण शहादत अली ने बताया की हमारे घर के पास पानी जमा रहता है आना जाना मुश्किल हो जाता है हालांकि वर्तमान में आर सी सी पड़ी हुई है लेकिन पानी की निकासी का कोई रास्ता नहीं है सफाई कर्मी कभी इस और रुक नहीं करता इसके अलावा ग्राम वासियों ने एक रास्ता दिखाया जोकि जनता रोड से अटैच है यह रास्ता चार पांच गांव को जोड़ता है इस रास्ते की हालत काफी चिंताजनक बनी हुई है यहां से कबीरपुर आलमपुर चांडी खुर्रामपुर आदि गांव मे जाने का मैन रास्ता है हर समय पानी जमा रहता है हर रोज कोई न कोई हादसे का शिकार हो जाता है इस रास्ते पर पानी जमा रहता है आए दिन रास्ता चलते हुए कोई ना कोई बूढ़ा बुजुर्ग वह महिला गिर जाते हैं कपड़े खराब हो जाते हैं एक और तो केंद्र सरकार की ओर से स्वच्छ भारत मिशन अभियान चलाया जा रहा है वही दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों की सफाई व्यवस्था लगभग चौपट सी हो गई ऐसे ही इस अभियान को अमली जामा पहना ना एक सपना सा दिखाई दे रहा है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी सफाई व्यवस्था के बारे में कह रहे हैं ग्रामीण क्षेत्रों मैं कोरोना ने अगर दस्तक दे दी रोकना मुशकिल हो जाएगा  सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाए प्रदेश के मुखिया खुद कह रहे हैं लेकिन अधिकारी उस पर पलीता लगाते दिखाई दे रहे हैं अब देखना यह है की गांव की सफाई होती है या नहीं? 🤔