अशफाक अम्बर /अफज़ल अली

यूरिया की किल्लत से जूझ रहे किसान! 

जिले भर में इस समय यूरिया को लेकर अकाल मचा हुआ है! 

बाजार में यूरिया का बोरा 300 से 350रुपये  प्रति बोरा तक बिक रहा है! 

बेहट(सहारनपुर) यूरिया की किल्लत से जूझ रहे किसानों की यूरिया की मांग पूरी नहीं हो पा रही है। किसान यूरिया खरीदने के लिए सहकारी समिति की लाइनों में लगे अपनी बारी का इंतज़ार करते हैं और अन्त में नम्बर आते आते यूरिया खत्म हो जाता है।
जिले भर में इस समय यूरिया को लेकर अकाल मचा हुआ है। यूरिया के बोरे प्राप्त करने के लिए किसान सहकारी समितियों के चक्कर पर चक्कर काट रहे हैं। लेकिन समितियों में यूरिया उपलब्ध नहीं होने के कारण किसान मायूस होकर वापस अपने घरों को लौट रहे हैं। किसान मुहम्मद इनाम, पदम प्रकाश शर्मा, मुकर्रम  चौधरी, शेर सिंह, अब्दुल  अजीज आदि ने बताया कि इस समय धान की फसल में यूरिया खाद  डालने की आवश्यकता बढ़ रही है। जिससे फसल अच्छे से तैयार हो जाए लेकिन एक एक दिन की देरी करते हुए किसानों को यूरिया उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। जिस कारण से हमारी फसलें खराब होती जा रही है। सहकारी समिति में यूरिया न होने के साथ-साथ सामान्य बाजार में जमकर यूरिया की कालाबाजारी की जा रही हैं बाजार में यूरिया का बोरा 300 से 350रुपये  प्रति बोरा तक बिक रहा है। जिसे मजबूरी में किसान लेने को विवश हैं। 
बुधवार को क्षेत्र की सहकारी समितियों में यूरिया की  गाड़ी पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही थी लेकिन शाम 4 बजे तक भी गाड़ी नहीं पहुंच सकी। जिस कारण दिन भर लोगों का जमावड़ा सहकारी समितियों पर लगा रहा। 
क्षेत्र की सहकारी समितियों  में बात की गई तो बताया गया कि दो-चार दिन के भीतर किसानों को पर्याप्त मात्रा में यूरिया खाद मिलना शुरू हो जाएगा।लेकिन बजाहिर तो ऐसा दिखाई नहीं दे रहा है।