✍रिपोर्ट-अब्दुल बारी राईन

🔷मुजफ्फराबाद पुलिस का चाट रेहड़ी वालो पर सितम ,सब्जी मंडी वालो पर करम
🔷सब्जी  मंडी में उड रहीं लॉक डाउन,सोशल डिस्टनसिंग की धज्जियां।


▶एक ओर शासन प्रशासन लॉकडाउन का पालन कराने को हर संभव प्रयास कर रहा है की लोग सजग रहे और नियमो का पालन करते हुए कोरोनॉ महामारी से बचे रहे 
परन्तु छुटमलपुर, कलसिया रोड पर लग रही सब्जी मंडी में खुलेआम लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। सुबह होते हीं यहा  किसान अपनी सब्जी लेकर सब्जी के थोक विक्रेता के पास आते है,यँहा बड़ी संख्या मर मौजूद पल्लेदार उतारते चढ़ाते हैं और आढ़ती-खरीदार इनकी खरीद बेच करते हैं।
▶इस काम मे सेंकडो लोग रोज लगे नजर आते हैं । इससे लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा बना हुआ है।हालांकि  चौकी इंचार्ज को मात्र चाट की रेहड़ी पर तो कोरोनॉ फैलाने वाली भीड़ नजर आती है और इन्हें लगने नही दे रहे लेकिन मंडी की भीड़ उनके ख़ास चश्मे में नजर नही आती हैं! 

▶वही क्षेत्र मे चल रही एम्बुलेंस कर्मियों की आये दिन जाम फसने शिकायत आती रहेती है इसके साथ ही छुटमलपुर रोड पर लगने वाली मंडी में उमड़ रही भीड़ लॉक डाउन की खुली धज्जियां उडा रही है। 
▶कुछ दिन पूर्व ही देहरादून मंडी से जुड़े वँहा के करीब आधा दर्जन आढ़ती ओर जिले के वँहा से जुड़े इतने ही लोगो की रिपोर्ट किरोना पॉजिटव आने से हड़कम्प मचा रहा था ।ऐसे में पुलिस की इन पर मेहरबानी ओर मंडी से जुड़े लोगों की लापरवाही यदि कोई कांड कर दे तो इसका जिम्मेदार कौन होगा ये अपने आप मे बड़ा सवाल है ?