नई दिल्ली::::: डब्लूएचओ ने कोविड19 संक्रमितों के इलाज को लेकर बड़ा ऐलान किया है। जैसा कि आप जानते है कोरोना वायरस को रोकना अब जैसे असम्भव सा हो गया है। कोरोना वायरस का खत्मा होने का नाम ही नही ले रहा है। वही जहाँ कोरोना वायरस की दवा के विकल्प के रूप में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का उपयोग किया जा रहा था वही अब डब्लूएचओ ने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर अस्थाई रोक लगा दी है। पर लोगो का मानना है कि यह चीन के साथ मिलकर कोई साजिश रची गयी है। डब्लूएचओ ने यह कदम तब उठाया जब भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने हाल ही में एडवाइजरी जारी कर इस दवा के अधिक इस्तेमाल को लेकर मंजूरी दी थी।
डब्लूएचओ की ओर से एक ट्वीट कर यह जानकारी साझा की गई है कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर अस्थाई रोक लगा दी है।

इससे पहले भी डब्लूएचओ पर चीन का पक्ष लेने का आरोप लगा है वही सोचने वाली बात है कि कोरोना के इलाज के लिए तीन दवाइयां विकल्प के तौर पर इस्तेमाल की जा रही थी। लेकिन डब्लूएचओ ने सिर्फ भारत की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन पर रोक लगाई ।