उतराखंड में कल से खुलेगी देशी-अँग्रेजी शराब की दुकानें।


हल्द्वानी: शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा है कि उधम सिंह नगर, नैनीताल और देहरादून को रेड जोन में डाल दिया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया है कि केंद्र सरकार द्वारा जारी सूची के बावजूद यदि प्रदेश सरकार को लगता है कि किसी जनपद को रेड जोन में डाला जाना आवश्यक है तो उसे अधिकार है कि वह रेड जनपद की सूची में उसे दर्ज कर सकती है।
लेकिन रेड जोन में शामिल किसी जनपद को सूची से निकाल नहीं सकती। उन्होंने कहा है कि नैनीताल, उधमसिंह नगर और देहरादून को रेड जोन में डाला जाएगा। उत्तराखंड के 9 ग्रीन जोन वाले जिलों में चार मई से सुबह सात से शाम चार बजे तक व्यावसायिक प्रतिष्ठान और दुकानें खुलेंगी। केवल शैलून की दुकान, शापिंग माल और काम्पलैक्स की दुकानें नहीं खोली जा सकती हैं।  लॉकडाउन के तीसरे चरण में देसी-विदेशी शराब की दुकानें व बीयर शाप खुलने जा रहे हैं। शासन से इसके संकेत मिलते ही आबकारी महकमे ने तैयारी शुरू कर दी है। पुराने ठेकेदारों को दुकान खोलने की अनुमति नहीं मिलेगी। ठेके पर उठ चुकी दुकानों को ही नए ठेकेदार खोल पाएंगे।

लाॅकडाउन की वजह से 22 मार्च से देसी-विदेशी शराब की दुकानें बंद हैं। सरकार की ओर से जो सेवाएं खोलने का निर्णय लिया गया है, उसमें शराब की दुकानें भी शामिल हैं। संयुक्त आयुक्त आबकारी के.के कांडपाल ने बताया कि शासन की ओर से ग्रीन व आरेंज जोन की दुकानें खाेलने के संकेत मिले हैं। कांडपाल ने बताया कि मंडल के छह जिलों में कुल 286 देसी-विदेशी शराब की दुकानें व बीयर शॉप हैं। इनमें से 71 दुकानों की नीलामी प्रक्रिया ठेकेदार न मिलने से पूरी नहीं हो पायी थी। शासन के निर्णय के अनुसार 215 दुकानों को चार मई से खोल दिया जाएगा। दुकानें नए ठेकेदारों को ही आवंटित की जाएंगी। वहीं आबकारी निरीक्षक नैनीताल महेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि आला अफसरों के निर्देश पर शराब की दुकानें व बीयर शाॅप खोलने की तैयारी शुरू कर दी गयी है।