ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामि बंसल ने 8 मेडिकल स्टोर पर मारा छापा, समान जप्त, कोरोना वायरस के कारण नकली सैनिटाइजर एवं महंगे माक्स बेचने पर हुई कार्रवाई


रुड़की/हरिद्वार

विश्व में तेजी से फैल रही कोरोना वायरस की महामारी के कारण लोगों में सैनिटाइजर और मास्क की मांग बढ़ गई है, इसको देखते हुए कुछ कंपनियों ने इसी कालाबाजारी शुरू कर दी है। साथ ही नकली सैनिटाइजर का गोरखधंधा भी बढ़ गया है। गुरुवार को रुड़की की ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामि बंसल के नेतृत्व में प्रशासन की टीम ने सिविल लाइन एवम गंगनहर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले आठ मेडिकल स्टोरों पर छापेमारी की। यहां उन्हें बिना मास्क और सेनेटाइजर मिले जिनके बिल स्टोर संचालक नही दिखा पाए। साथ ही नामी कम्पनियों के नाम पर नकली सामान उपलब्ध था। जेएम ने नकली मार्क्स व सेनेटाइजर बेचने वाले मेडिकल कारोबारियों पर कार्रवाई की । ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामि बंसल की बताया कि कोरोना वायरस के मद्देनजर जिला प्रशासन नकली व ऊंचे दाम में मास्क व सैनिटाइजर बेचने वाले मेडिकल स्टोर संचालकों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रहा है। उन्होंने बताया कि एक टीम बनाकर शहर में स्थित सभी मेडिकल स्टोर पर नजर रखी जा रही है। जिला प्रशासन के लोग नकली ग्राहक बनकर मेडिकल स्टोर पर जा रहे हैं, तथा यह पता करने का प्रयास कर रहे हैं कि कहीं मेडिकल स्टोर संचालक तय दाम से ज्यादा लेकर मास्क और सैनिटाइजर तो नहीं बेच रहे हैं। उन्होंने बताया कि छापेमारी में लगभग आठ दुकानों पर कार्रवाई कर सामान जप्त कर लिया है।